हेल्लो दोस्तो कैसे हो आप सभी लोग उम्मीद करता हूं आप सभी लोग अच्छे से होंगे आज के इस आर्टिकल में हम आप सबके लिए लेकर आए है । heart touching sad shayari in hindi आप इस आर्टिकल को लास्ट तक पड़े और मज़े ले वाकी आप इस आर्टिकल को अपने दोस्तो के साथ शेयर भी कर सकते हैं । 





मेरी तकदीर में एक भी गम नहीं होता
अगर तकदीर लिखने 
का हक मेरी मां को होता


किसी का दिल इतना भी मत दुखाओ की
वह खुद के सामने 
तुम्हारा नाम लेकर रो पढ़े



आज एक और बरस बीत गया उसके बगैर
जिसके होते हुए होते थे ज़माने 




आज कल चांद से बात नहीं होती
कमबख्त ये रात फिर रात नहीं होती


Sad Shayari In Hindi






मोहब्बत करके किसी को छोड़ देना
उसका कतल करने के बराबर होता है




इश्क़ है तो रूह से महसूस कीजिए
जिस्म की खुशबू तो कुत्ते भी सूंग लेते है




छुपी होती है लफ्जो में गहरी राज की बाते
लोग शायरी समझकर बस मुस्कुरा देते है




तेरे साथ हर दिन दिवाली जैसा लगता है
बिना तेरे ये शहर भी खाली सा लगता है




मुस्कुरा कर देखो तो सारा जहां रंगीन है वरना
भीगी पलकों से तो आयना भी धुंधला दिखता है




तमाशा जिंदगी का हुआ 
कलाकार सब अपने निकले


Fadu Sad Shayari in Hindi





उंगलियां आज भी इस सोच में गुम है
कैसे उसने नए हाथ को थामा होगा




दुनिया फरेब करके हुनरमंद हो गई
हम ऐतबार करके गुन्हागार हो गए




मुझमें कोई अच्छाई है ही नहीं
मुझे जो बुरा कहता है मान लेता हूं





इश्क़ खुद खुशी का धंधा है
अपनी ही लाश अपना ही कंधा है


Sad Shayari in Hindi for Breakup





जिसे महसूस करना चाहिए था
उसे आंखो से देखा जा रहा है





बुजदिली होगी खुद खुशी करना
में उदासी का हल निकाल लूंगा




अगर तू सलीके से तोड़ती मुझको
तो मेरे टुकड़े भी तेरे काम आते




मज़बूरी के मारे और प्यार में हारे 
कभी कभी ही खुश होते है 




मोहब्बत खा गई जवान नस्लों को मुर्शीद 
अब ये लड़के त्योहारों पर भी खुश नहीं रहते




हम तो फिर भी शायर हुए इश्क़ हार के 
हमने तो सुना है लोग पागल भी हो जाते है 




तुमने तीर चलाया तो कोई बात ना थी
ज़ख्म मैंने जो दिखाया तो बुरा मान गए


Sad Shayari in Hindi for Girlfriend





जीते जी कोई पूछता नहीं यहां
मौत पे आते है बारात हो जैसे




वो मेरे मरने के इंतजार में है 
उसे आज भी बहम है ज़िंदा हूं में






दर सा लगता है अब रिश्तों से 
लोग थोडा देकर सब कुछ ले जाते है 




इंतज़ार रहता है तुम्हारा 
कभी सब्र से कभी बेसब्री से 





अब मुझे रास आ गया अकेलापन
अब आप अपने वक़्त का अचार डालिए





नादानियों में जो गुजर गए 
दिन वही कमाल के थे




सोचा नहीं था जिंदगी में ऐसे भी फसाने होंगे
रोना भी जरूरी होगा और आंसू छिपाने होंगे




आंखे पढ़ो और जानो हमारी रजा क्या है
हर बात लफ्जों से बयां हो तो मज़ा क्या है 




हम तेरी जिंदगी से ऐसे चले जाएंगे
जैसे हादसे में जान जाती है 



मोहब्बत थी तो चांद अच्छा था
उतर गई तो दाग दिखने लगा 







 बस एक लफ्ज उनको सुनाने के लिये !

जाने कितने अल्फाज लिखे हमने जमाने के लिये !!



bas ek lafz unko sunaane ke liye ! 

jaane kitane alphaaj likhe hamane jamaane ke liye !!




खामोशियाँ वही रही ता-उम्र दरमियाँ,

बस वक़्त के सितम और हसीन होते गए।



khaamoshiyaan vahee rahee ta-umr daramiyaan, 

bas vaqt ke sitam aur haseen hote gae.



मिटा दिया हर जगह से तेरा नाम मगर !

आज भी जिन्दा है तेरा वजूद अश्कों में मेरे!!




mita diya har jagah se tera naam magar ! 

aaj bhee jinda hai tera vajood ashkon mein mere!!




मोहब्बत मुकद्दर है कोई ख़्वाब नही,

ये वो अदा है जिसमें हर कोई कामयाब नही,

जिन्हें मिलती मंज़िल उंगलियों पे वो खुश है,

मगर जो पागल हुए उनका कोई हिसाब नही.



mohabbat mukaddar hai koee khvaab nahee,

 ye vo ada hai jisamen har koee kaamayaab nahee,

  jinhen milatee manzil ungaliyon pe vo khush hai, 

  magar jo paagal hue unaka koee hisaab nahee.



दिल मे आरज़ू के दिये जलते रहेगे,

आँखों से मोती निकलते रहेगे,

तुम शमा बन कर दिल में रोशनी करो,

हम मोम की तरह पिघलते रहेंगे.




dil me aarazoo ke diye jalate rahege,

 aankhon se motee nikalate rahege, tum.

  shama ban kar dil mein roshanee karo, 

 ham mom kee tarah pighalate rahenge.





माना कि तू नहीं है मेरे सामने

पर तू मेरे दिल में बसता हैं,

मेरे हर दुख में मेरे साथ होता है,

और हर सुख में मेरे साथ हसता है.



maana ki too nahin hai mere saamane 

par too mere dil mein basata hain, 

mere har dukh mein mere saath hota hai, 

aur har sukh mein mere saath hasata hai.





मुझसे खुशनसीब हैं मेरे लिखे ये लफ्ज,

जिनको कुछ देर तक पढ़ेगी निगाहे तेरी..!!



mujhase khushanaseeb hain mere likhe ye lafz, 

jinako kuchh der tak padhegee nigaahe teree..!!



तुम तो डर गये हमारी एक ही कसम से,

हमे तो तुम्हारी कसम देकर हजारो ने लूटा है..!!



tum to dar gaye hamaaree ek hee kasam se,

 hame to tumhaaree kasam dekar hajaaro ne loota hai..!!



कितना अजीब है लोगों का अंदाज़-ए-मोहब्बत,

रोज़ एक नया ज़ख्म देकर कहते हैं अपना ख्याल रखना..!!



kitana ajeeb hai logon ka andaaz-e-mohabbat,

 roz ek naya zakhm dekar kahate hain apana khyaal rakhana..!!



मेरी आँखों को सुर्ख़ देख कर कहते हैं लोग,

लगता है..तेरा प्यार तुझे आज़माता बहुत है..!!



meree aankhon ko surkh dekh kar kahate hain log, lagata hai..

tera pyaar tujhe aazamaata bahut hai..!!



बनके अजनबी मिले है ज़िंदगी के सफर में,

इन यादों को हम मिटायेंगे नहीं,

अगर याद करना फितरत है आपकी,

तो वादा है हम भी आपको भुलायेंगे नहीं



banake ajanabee mile hai zindagee ke saphar mein, 

in yaadon ko ham mitaayenge nahin,

 agar yaad karana phitarat hai aapakee, 

 to vaada hai ham bhee aapako bhulaayenge nahin




सांसो का पिंजरा किसी दिन टूट जायेगा,

ये मुसाफिर किसी राह में छूट जायेगा,

अभी जिन्दा हु तो बात कर लिया करो,

क्याब पता कब हम से खुदा रूठ जायेगा.



saanso ka pinjara kisee din toot jaayega,

 ye musaaphir kisee raah mein chhoot jaayega, 

 abhee jinda hu to baat kar liya karo, 

 kyaab pata kab ham se khuda rooth jaayega





हम गए उनकी गली में,

तो वो फूल बरसाने लगे,

जब देखा उनकी मम्मी ने तो,

साथ में गुलाब भी आने लगे.



ham gae unakee galee mein, to vo phool barasaane lage, 

jab dekha unakee mammee ne to, saath mein gulaab bhee aane lage




दिल के समुन्दर में एक गहराई है,

उसी गहराई से तुम्हारी याद आई है,

जिस दिन हम भूल जाये आपको,

समझ लेना हमारी मौत आई है.



dil ke samundar mein ek gaharaee hai, 

usee gaharaee se tumhaaree yaad aaee hai,

 jis din ham bhool jaaye aapako, 

 samajh lena hamaaree maut aaee hai.



दिन हुआ है, तो रात भी होगी,

मत हो उदास, उससे कभी बात भी होगी.

वो प्यार है ही इतना प्यारा,

ज़िंदगी रही तो मुलाकात भी होगी.



din hua hai, to raat bhee hogee, 

mat ho udaas, usase kabhee baat bhee hogee. 

vo pyaar hai hee itana pyaara, 

zindagee rahee to mulaakaat bhee hogee




चाहत इतनी थी की उनको दिखाई न गई,

चोट दिल पर लगी इसलिए दिखाई न गई,

हम चाहते तो थे सारी दूरियां मिटाना,

लेकिन दूरियां इतनी थी की मिटाई न गई




chaahat itanee thee kee unako dikhaee na gaee, 

chot dil par lagee isalie dikhaee na gaee,

 ham chaahate to the saaree dooriyaan mitaana, 

 lekin dooriyaan itanee thee kee mitaee na gaee




उल्फत का अक्सर यही दस्तूर होता है!

जिसे चाहो वही अपने से दूर होता है!

दिल टूटकर बिखरता है इस कदर!

जैसे कोई कांच का खिलौना चूर-चूर होता है!




ulphat ka aksar yahee dastoor hota hai! 

jise chaaho vahee apane se door hota hai! 

dil tootakar bikharata hai is kadar! 

jaise koee kaanch ka khilauna choor-choor hota hai!




अब सोच रहे हैं सीख ही लें हम भी बेरुखी करना,

मोहब्बत देते देते सबको हमने अपनी ही कदर खो दी।




ab soch rahe hain seekh hee len ham bhee berukhee karana, 

mohabbat dete dete sabako hamane apanee hee kadar kho dee.



आज तेरी याद को सीने से लगा कर हम रोये,

हम तुझे तन्हाई में पास बुलाकर रोये,

पाना तो बहुत चाहा था हर बार तुझे,

पर हर बार तुझे न पाकर हम रोये.




aaj teree yaad ko seene se laga kar ham roye,

 ham tujhe tanhaee mein paas bulaakar roye,

  paana to bahut chaaha tha har baar tujhe,

   par har baar tujhe na paakar ham roye.




जब कोई आपसे मजबूरी में जुदा होता है,

जरूरी नही वो इंसान वेबफा होता है,

जब कोई देता आपको जुदाई के आँसू,

तन्हाइयों में वो आपसे ज्यादा रोता है.




jab koee aapase majabooree mein juda hota hai,

 jarooree nahee vo insaan vebapha hota hai,

  jab koee deta aapako judaee ke aansoo,

   tanhaiyon mein vo aapase jyaada rota hai.